बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए 1 हफ्ते का स्वतः लॉकडाउन लगाने का किया ऐलान

मीरापुर बसही व्यापार मंडल का सराहनीय कार्य

वाराणसी, इमरान।  में कोरोनावायरस अपना पैर तेजी से पसार रहा है ।जिसको लेकर मीरापुर बसही उद्योग व्यापार मंडल के पदाधिकारियों व व्यापारियों की कल 26अप्रैल को आनलाइन बैठक हुई। जिसमें व्यापार मंडल के अध्यक्ष मृत्युंजय सोनकर ने कहा कि साथियों वाराणसी में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण की इस महामारी में अपने कई व्यापारी साथी, सम्पर्की, रिश्तेदार इस हफ्ते हम लोगों को अलविदा कह गए जिससे मैं बुरी तरह आहत हूं और मेरे पास शब्द नहीं है कि मैं कैसे अपने साथियों को श्रद्धांजलि अर्पित करुं, मेरे हिसाब से काशी को बचाने के लिए और अपने साथियों को सच्ची श्रद्धांजलि यही होगी कि इस करोना संक्रमण की चैन को तोड़ा जाए और कम से कम एक हफ्ते का स्वत: अपने व्यापारिक क्षेत्र में लॉकडाउन लगाया जाए।
संरक्षक महेश्वर सिंह भोलानाथ पटेल व राज बहादुर सोनकर ने भी कोरोना संक्रमण की चैन को तोड़ने के लिए और अपने व्यापारियों को सुरक्षित करने के लिए 1 हफ्ते के लाकडाउन लगाने की प्रस्ताव को अपनी अपनी मंजूरी दिए।

साथ ही सभी व्यापारी भाइयों से विनम्र अनुरोध है किए कि आप अपने प्रतिष्ठान को स्वत: लॉकडाउन करे , अति आवश्यक सेवा के व्यापारी दुकानदार एक दुसरे से दुरी बनाए रखे, मास्क पहनकर तथा अपने दुकान को सेनिटाइज करते हुए समयानुसार व्यापार करें।
ऑनलाइन बैठक में संरक्षक मंडल श्री महेश्वर सिंह, श्री भोलानाथ पटेल ,श्री राज बहादुर सोनकर, अध्यक्ष:- मृत्युंजय सोनकर, कोषाध्यक्ष:- अजय यादव ,संगठन मंत्री:- शेखर बाबा मीडिया प्रभारी:- रामजी पटेल (बबलू), उपाध्यक्ष:- राज कुमार सोनकर, विनोद शर्मा, महिला मोर्चा अध्यक्ष:- श्रीमती कंचन लता मौर्य, महिला प्रभारी:- अनीता पटेल, व्यापारी:- संतोष यादव, सोनू गौड़, गप्पू शर्मा, मोहन पटेल, दीपक झा, दिनेश यादव, जितेन्द्र पांडे, सतीश पटेल, सरोज पटेल(खुनखुन) आदि लोग शामिल थे।
सभी व्यापारियों ने भी व्यापार मंडल के विचारों का समर्थन किया इसके बाद व्यापार मंडल के अध्यक्ष व संरक्षक मंडल ने एक स्वर में घोषणा की कि
“मीरापुर बसही उद्योग व्यापार मंडल समिति (रजि), वाराणसी” आज से 2 मई तक एक सप्ताह का अपने व्यापारिक क्षेत्र में स्वत: लॉकडाउन करने की घोषणा करता है।

इस करोना संक्रमण का चैन टूटना जरूरी है अन्यथा काशी नगरी लाशों का ढेर मे बदल जाएगी , सरकार की कुछ अपनी मजबूरियां हैं जिससे सरकार lock-down नहीं लगा पा रही है , हम व्यापारी अपने से ही जागरूकता बनाए रखें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here