अंतराष्ट्रीय ब्राह्मण संरक्षण समिति द्वारा भाजपा नेता मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, ज्योतिरादित्य सिंधिया व वी डी शर्मा का पुतला फूंक प्रदर्शन

0
33

भाजपा नेताओं ने ब्राह्मणों के आराध्य भगवान परशुराम का किया अपमान : अश्विनी शर्मा

आरक्षण संघर्ष समन्वय समिति सहित विभिन्न सवर्ण संस्थाओं ने विरोध प्रदर्शन का किया खुलकर समर्थन।

मामला सहस्त्रबाहु को भगवान बताने का

फिरोजपुर (अशोक भारद्वाज) स्थानीय बाबा नामदेव चौक में अंतरराष्ट्रीय ब्राह्मण संरक्षण समिति के नेतृत्व में ब्राह्मण समाज द्वारा भाजपा नेता मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, ज्योतिरादित्य सिंधिया व वी डी शर्मा का पुतला फूंक प्रदर्शन किया गया। पुतला फूंकने से पहले, भाजपा के तीनो नेताओं का दाह संस्कार विधिविधान से मंत्र उच्चारण करके, अफसोस बैठक रखी गई।

उक्त खबर का महत्वपूर्ण वीडियो खबर के अंत में नीचे दिया गया है

इस मौके अंतरराष्ट्रीय ब्राह्मण संरक्षण समिति के पंजाब प्रदेश प्रभारी अश्विनी शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया की दिनांक 11 नवंबर को भाजपा नेता मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, ज्योतिरादित्य सिंधिया व वी डी शर्मा ने अपने अपने ट्विटर हैंडल से सहस्त्रबाहु कि ना सिर्फ जयंती मनाई बल्कि सहस्त्रबाहु को भगवान तक कह डाला।

श्री शर्मा ने बताया कि भगवान विष्णु ने जब जब पृथ्वी पर अवतार लिया है तब तब उस अवतार लेने का कोई ना कोई विशेष कारण व महत्व रहा है, जब जब पृथ्वी पर अत्याचार बढ़े हैं तब तब भगवान विष्णु ने ब्राह्मण गऊ गरीब ऋषि-मुनियों की रक्षा के लिए अवतार धारण किया है।

आगे जानकारी देते हुए अश्विनी शर्मा ने बताया कि ठीक ऐसे ही जब सिद्धियां वरदान प्राप्त कर चुके सहस्त्रबाहु के अत्याचार बढ़ने लगे तो भगवान विष्णु ने अपना छठा अवतार भगवान परशुराम के रूप में लिया।

अश्विनी शर्मा ने कहा की सहस्त्रबाहु ने भगवान परशुराम के पिता ऋषि जमदग्नि की हत्या कर उनसे कपिला कामधेनु गौ माता को छीन लिया था, जिस कारण भगवान परशुराम ने कुपित होकर सहस्त्रबाहु का वध किया।

श्री शर्मा ने कहा की जिस सहस्त्रबाहु के संहार के लिए भगवान विष्णु ने छठा अवतार लिया आज सत्ता घमंड में अंधे हुए भाजपा नेताओं ने उसी सहस्त्रबाहु की जयंती मनाते हुए उसे भगवान तक कह डाला जो कि हमारे आराध्य भगवान परशुराम का अपमान है। अश्विनी शर्मा ने कहा कि यदि भाजपा नेताओं की हरकतों को ऐसे ही नजरअंदाज किया गया तो यह कल को महिषासुर को भी भगवान बताने लगेंगे।

अश्विनी शर्मा ने बताया कि उक्त भाजपा नेताओं द्वारा सहस्त्रबाहु को भगवान कहने के विरोध का आरक्षण संघर्ष समन्वय समिति, ब्राह्मण सभा फिरोजपुर, श्री परशुराम इंटरनेशनल संगठन,अंतर्राष्ट्रीय अग्रवाल संरक्षण समिति, सवर्ण संरक्षण व न्याय मंच सहित कई संगठनों ने खुलकर समर्थन किया है। अश्विनी शर्मा ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि उक्त भाजपा नेताओं ने ब्राह्मण समाज से माफी ना मांगी तो ब्राह्मण समाज देश के 3 राज्यों में होने जा रहे विधानसभा चुनावों में भाजपा का बहिष्कार करेगा। इस मौके पं. मोहन कौशिक, महंत वरिंदर शर्मा, हरीराम खिंधड़ी,  प्रेम शर्मा, सूरज शर्मा, राजकुमार शर्मा, सोमनाथ शर्मा, रमन कुमार, दिनेश शर्मा आदि उपस्थित थे।

उक्त खबर का महत्वपूर्ण वीडियो 

Report : Ashok Bhardwaj

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here