भारत है तालिबान याँ ISIS याँ पाक ISI का प्ले गार्डन नही – अपनी मानसिकता सुधारें ।

0
25

ज्ञानवापी विवादित परिसर मामले के जज को मिली परिवार सहित मारने की धमकी।

आई सी आई जे ने लिया कड़ा संज्ञा : कहा न्यायाधीश को धमकी बर्दाश्त नही।

वाराणसी (वरिष्ठ अधिवक्ता अमित उपाध्याय) आज सिविल जज सीनियर डिविजन रवि कुमार दिवाकर को मुस्लिम संगठन द्वारा पत्र लिखकर परिवार सहित जान से मारने की मिली धमकी मिली है। जिसमे जज साहिब को परिवार सहित धमकी दी गई । उक्त धमकी एक पत्र भेज कर दी गई है। पत्र में साफ तौर पर सिविल जज सीनियर डिवीजन रवि कुमार दिवाकर की पत्नी व माता श्री को टार्गेट किया गया है। मामला ज्ञानवापी विवादित परिसर से जुड़ा है। पत्र में जहां जज पर ज्ञानवापी परिसर मामले में पक्षपात के आरोप लगाते हुए उन्हें काफिर कहा गया, वहीं पत्र हिंदुओं को कई बार उग्रवादी तक कहा गया। इसके इलावा पत्र में कई तरह की भद्दी शब्दावली का भी इस्तेमाल किया गया।

जज साहिब को दी गई धमकी भरा पत्र

वहीं घटना का पता चलते ही आईसीआईजे ने इसका कड़ा संज्ञान लिया है। वरिष्ठ अधिवक्ता ICIJ विधिक प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री अमित उपाध्याय ने कहा कि ये तालिबान नही भारत है अगर कोई अनहोनी हुई तो अधिवक्ता समाज शांत नही बैठेगा और मामला अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चला जायेगा जिसकी आंच सहन नही होगी अतः ऐसे अवांछनीय तत्व सुधर जाए ।

वरिष्ठ अधिवक्ता अमित उपाध्याय
राष्ट्रीय उपाध्यक्ष
ICIJ (विधिक प्रकोष्ठ)
Dr. A K Pandey
Adv .Hon. S C India
Director ICIJ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here