Home राज्य उत्तर प्रदेश मऊ,जिले के चिरैयाकोट नगर क्षेत्र में जल जमाव से बाजार क्षेत्र हुआ...

मऊ,जिले के चिरैयाकोट नगर क्षेत्र में जल जमाव से बाजार क्षेत्र हुआ तालाब

आजमगढ़/ मऊ,जिले के चिरैयाकोट नगर क्षेत्र में जल निकास की समुचित व्यवस्था ना होने व पूर्व में निर्मित नालों की साफ-सफाई का उचित प्रबंधन के अभाव बस पूरा बाजार क्षेत्र तालाब का रूप धारण करता जा रहा है जिससे ना सिर्फ बाजार वासी त्रस्त है बल्कि जिनके कंधों पर हजारों हजार की आबादी की सुरक्षा का दायित्व है अब वह भी अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं,

तथा उनके समक्ष भी खाने व सोने की व्यवस्था के लाले पड़े हुए हैं। ज्ञातव्य हो कि पिछले 2 दिनों से रुक-रुक कर हो रही भारी बारिश के चलते पूरे क्षेत्र में जगह-जगह जल जमाव से लोगों का ना सिर्फ आना-जाना दुश्वार हो चला है बल्कि बाजार वासियों को अपने दुकानों में रखे सामानों की वर्षा के पानी से रक्षा कर पाना भी कठिन साबित हो रहा है

यूं तो छोटी-बङी बातों पर लोगों के झगड़ने से लेकर गांव में जमा होते पानी के निकास के प्रबंधन में पुलिस महकमा ही कारगर साबित होता है किंतु चिरैयाकोट के लिए यह बात भी बेमानी साबित हो रही है क्योंकि इस बारिश में बाजार के चौक से तकिया मार्ग हो या फिर त्रिमुहानी क्षेत्र या सब्जी मंडी का क्षेत्र ही क्यों ना हो चारों तरफ पानी ही पानी नजर आ रहा है ,नालों की अव्यवस्था के कारण तथा नगर पंचायत द्वारा समय रहते जल निकास की समुचित व्यवस्था का प्रबंध न करने के कारण आज आजमगढ़ गाजीपुर मुख्य मार्ग के बाजार क्षेत्र में भी सड़क के इस पार से उस पार बह रहा है जहां से होकर गुजरने वाले राहगीरों को कीचड़ में सनकर यात्रा करनी पड़ रही है,तथा इससे भी बड़ी दुश्वारी तो स्थानीय पुलिस प्रशासन के लिए है क्योंकि पूरा थाना परिसर ही जलमग्न हो चुका है, जिससे सिपाहियों के खाने उठने बैठने हर तरह की मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है हालांकि नगर पंचायत द्वारा क्षेत्र के विकास का बड़ा बड़ा ढिंढोरा पीटा जाता है जिसकी पोल इस बारिश ने खोल कर रख दी है! यही हाल आने वाले कुछ दिनों तक बनी रही तो इससे ना सिर्फ बाजार के निवासी दुकानदार बल्कि आम राहगीर भी जलालत झेलने को मजबूर होंगे तथा जगह जगह जमे पानियों के सड़ने से तमाम संक्रामक बीमारियों का फैलाव होगा जो आम जनमानस के लिए काफी मुसीबत खड़ा करने को काफी होगा, क्षेत्रवासियों ने इस ओर जिला प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए अविलंब आवश्यक कदम उठाने की मांग की है।

संजय यादव, निर्देशक/प्रबंधक

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here