Home राज्य उत्तर प्रदेश विद्युत विभाग एग्जीक्यूटिव इंजीनियर के विरुद्ध वारंट

विद्युत विभाग एग्जीक्यूटिव इंजीनियर के विरुद्ध वारंट

0
13

वाराणसी (अधिवक्ता अमित उपाध्याय) विशेष जिला व सत्र न्यायाधीश राकेश त्रिपाठी की अदालत ने सिगरा स्थित विद्युत विभाग के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर के विरुद्ध वारंट जारी कर न्यायालय में व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होने का आदेश दिया। प्रकरण के अनुसार विद्युत चोरी के एक मामले में आरोपी शरद पांडेय ने विभाग द्वारा निर्धारित सम्मन शुल्क जमा कर दिया था। बावजूद इसके आरोपी के विरुद्ध न्यायालय में पुलिस द्वारा आरोप पत्र दाखिल कर दिया गया। आरोपी शरद पांडेय ने अपने अधिवक्ता रवि प्रकाश श्रीवास्तव, अनूप सिंह व संजय कुमार के माध्यम से 2019 में ही न्यायालय ने प्रार्थना पत्र दाखिल कर उक्त तथ्यों से न्यायालय को अवगत कराया था। न्यायालय ने इस संबंध में विद्युत विभाग से आख्या तलब किया परंतु न्यायालय द्वारा बार-बार आख्या मांगे जाने के बावजूद न्यायालय की सख्त टिप्पणी को अनदेखा करते हुए विभाग द्वारा कोई आख्या नहीं भेजी गई। जिस पर आरोपी के अधिवक्ता द्वारा संबंधित अधिकारियों के विरुद्ध दंडात्मक कार्रवाई किए जाने हेतु न्यायालय में तर्क प्रस्तुत किया गया। न्यायालय ने सिगरा स्थित विद्युत विभाग के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर के विरुद्ध वारंट जारी कर 4 जून को व्यक्तिगत रूप से न्यायालय में प्रस्तुत होने का आदेश जारी कर दिया। न्यायालय के आदेश की चर्चा दिन भर कचहरी होती रही। अधिवक्ताओं और आम जनमानस ने बिजली विभाग के कर्मचारियों के ऊपर मनमाने ढंग से कार्य करने व उपभोक्ताओं का उत्पीड़न करने का आरोप लगाते हुए न्यायालय के आदेश की खुब सराहना किया।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here